ताजा

ऐसे करें नकली अंडे की पहचान, 99% लोग नहीं जानते अंडे के बारे में ये बात

हमारे देश में बहुत सी ऐसी जगह हैं जहां पे नकली अंडे बिक रहे हैं। कोई इन्हे चीन से आये अंडे कहता है तो किसी का कहना है कि हमारे देश में ही इन अंडों को बनाया बनाया जा रहा है। आज के समय में मिलावट इतनी बढ़ चुकी है कि किसी भी चीज को बिना उसकी जाँच किए खाना मना है।


आज हम आपको इसी के बारे में बताने वाले हैं कि ये नकली अंडे कैसे बनाए जाते हैं और आप कैसे नकली और असली अंडे में फर्क पता कर सकते है। अंडे के बारे में ये बात ज्यादातर लोग नहीं जानते होंगे। जिसके कारण लोग अंडे को बिना चेक किये खा लेते हैं जिसके कारण उन्हें बाद में गंभीर बिमारियों का शिकार होना पड़ता है।

आपको बता दें कि भारत में नकली अंडों का कारोबार बहुत बढ़ चुका है और इन नकली अंडों को सोडियम एल्गिनेट, जिलेटिन और खाने योग्य कैल्शियम से तैयार किया जा रहा है। इसमें पानी और खाने के रंग को मिलाकर बिलकुल असली अंडे जैसा बना दिया जाता है। आपको बता दें कि ये इतनी सफाई से बनाए जाते हैं कि इनको सिर्फ देखकर असली और नकली का अंतर समझ पाना कठिन है। अंतर् समझने के लिए इसको थोड़ा बारीकी से देखना पड़ता है।

असली और नकली अंडे की पहचान करने के लिए आपको इन चीज़ों का ध्यान रखना पड़ेगा। नकली अंडे की सबसे पहली पहचान है कि इसका छिलका सख्त होगा। असली अंडे की तुलना में ये थोड़ा खुरदुरा भी होगा। इसके साथ ही छिलके के अंदर रबर जैसा पदार्थ देखने को मिलेगा। नकली अंडे की पहचान करने का एक तरीका उसकी चमक भी है।

अगर आपको अंडे के छिलके अधिक चमकदार नज़र आएं तो समझ लें कि वो अंडा नकली हो सकता है क्योकि असली अंडे पर ज्यादा चमक नहीं होती। नकली अंडे की परख करने का दूसरा तरीका ये है कि छिलके की परख करने के बाद आप अंडे को फोड़ कर देखें। नकली अंडे को फोड़ते ही आप देखें के इसका पीला हिस्सा कुछ ही सेकेंड्स में पीले हिस्से के साथ मिलना शुरू हो जाएगा।

यानि कि घुल जाएगा। लेकिन असली अंडे का पीला हिस्सा तब तक नहीं घुलता जब तक आप उसे फेंटेंगे नहीं। ऐसे ही कुछ बातों का ध्यान रखर आप असली और नकली अंडे की पहचान कर सकते हैं और अपने स्वास्थ्य को सुरक्षित कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button