स्पोर्ट्स

स्ट्राइकर लियोनेल मेसी को 6 बार सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर चुना गया।

पेरिस. फुटबॉल क्लब बार्सिलोना के स्ट्राइकर लियोनल मेसी (32) सोमवार रात दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर चुने गए। पेरिस में हुए समारोह में उन्होंने रिकॉर्ड छठी बार बैलोन डी’ओर अवॉर्ड जीता। लिवरपूल के डिफेंडर वर्जिल वान डिक दूसरे और युवेंट्स के क्रिस्टियानो रोनाल्डो तीसरे स्थान पर रहे। महिलाओं में अमेरिका की मेगन रेपिनो ने दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का सम्मान हासिल किया। उनसे पहले नॉर्वे की एडा हैगरबर्ग ऐसा कर चुकी हैं।

पुरस्कार जीतने के बाद मेसी ने कहा, ‘‘10 साल बीत गए, जब मैंने पहली बार ये सम्मान हासिल किया था। उस वक्त मैं 22 साल का था और अपने तीन भाइयों के साथ यहां पहुंचा था। मुझे अगले कुछ साल और फुटबॉल खेलने की उम्मीद है। मैं जानता हूं कि रिटायरमेंट की उम्र करीब है। इसलिए मैं हर लम्हे को जी रहा हूं।’’ इससे पहले पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने पांच बार यह अवॉर्ड जीता है। 

रेपिनो ने कहा- टीम के सहयोग से यहां तक पहुंचीं

दूसरी बार महिला वर्ग में सम्मान हासिल करने वालीं रेपिनो ने कहा- मेरे लिए यह साल शानदार रहा। मैं अपनी टीम के साथियों, कोच और यूएस फुटबॉल फेडरेशन का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं। उनके सहयोग की बदौलत ही मैं ऐसा प्रर्दशन कर पाई।

मेसी ने 4 साल बाद अवॉर्ड जीता

मेसी ने चार साल बाद यह पुरस्कार जीता। पिछली बार वे शीर्ष तीन में भी जगह नहीं बना पाए थे। 2018 में रियाल मैड्रिड और क्रोएशिया के लुका मौड्रिच ने यह टाइटल जीता था। इस साल मेसी जबरदस्त फॉर्म में है। वह 53 मैचों में 46 गोल दाग चुके हैं। ला लिगा के पिछले सीजन में उन्होंने 34 मैच में 36 गोल दागे और उनका क्लब चैंपियन भी बना था। 

मेसी चैम्पियंस लीग में 34 टीमों के खिलाफ गोल करने वाले पहले खिलाड़ी

मेसी चैम्पियंस लीग में 34 अलग-अलग टीमों के खिलाफ गोल करने वाले पहले खिलाड़ी भी बने हैं। उन्होंने पिछले हफ्ते बुधवार को खेले एक मुकाबले में डोर्टमंड के खिलाफ गोल कर यह उपलब्धि हासिल की। उनसे पहले पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और स्पेन के राउल ने 33 टीमों के खिलाफ गोल किए थे।

रेपिनो से पहले नॉर्वे की एडा दो बार यह खिताब जीत चुकीं

अमेरिकी खिलाड़ी रेपिनो दो बार बैलोन डि ओर पुरस्कार जीतने वाली दूसरी महिला खिलाड़ी बनीं हैं। उनसे पहले नॉर्वे की एडा हैगरबर्ग ऐसा कर चुकी हैं। रेपिनो की बदौलत अमेरिका इस साल जुलाई में दूसरी बार फुटबॉल विश्व कप जीतने में कामयाब रहा। नीदरलैंड के खिलाफ फाइनल में मिली 2-0 की जीत में पहला गोल उन्होंने ही दागा था। टूर्नामेंट में रेपिनो को गोल्डन बूट और गोल्डन बॉल का अवॉर्ड भी मिला। अमेरिकन खिलाड़ी को इस साल फीफा का बेस्ट फीमेल प्लेयर का पुरस्कार भी मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button