पॉलिटिक्स

राष्ट्रपति पद की रेस में शरद पवार? बढ़ी हलचल

मुंबई : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) अध्यक्ष शरद पवार अब राष्ट्रपति पद की रेस में हैं. शिवसेना नेता संजय राउत और एनसीपी सांसद माजिद मेमन ने महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेता शरद पवार को राष्ट्रपति बनाये जाने के प्रयासों की तस्दीक की है.

माजिद मेमन ने कहा है कि शरद पवार को देश का अगला राष्ट्रपति बनाने के लिए समर्थन जुटाने की कोशिश हो रही है जिसके परिणाम सकारात्मक मिल रहे हैं. साल 2022 तक इसके लिए सभी गैर-भाजपा दलों को एक साथ लाया जाएगा. 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की लहर को कम करने में भी इससे मदद मिलेगी.

वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी सुप्रीम शरद पवार को राष्ट्रपति बनाये जाने की वकालत करते हुए कहा है कि वह देश के जाने-माने और वरिष्ठ नेता हैं.

2022 में होनेवाले राष्ट्रपति चुनावों के लिए सभी राजनीतिक दलों की तरफ से उनका नाम राष्ट्रपति पद के लिए रखा जाना चाहिए. संजय राउत ने यह दावा भी किया है कि ढाई साल बाद होनेवाले राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए ‘हमारी तरफ’ पर्याप्त संख्याबल हो जाएगा.

गौरतलब है कि शरद पवार की वजह से ही महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस पार्टी ने शिवसेना को समर्थन दिया है और वह महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी की सरकार बनवाने में किंगमेकर की भूमिका में उभरे हैं.

शरद पवार ने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनवाने में बड़ी भूमिका निभायी. इसके साथ ही उद्धव ठाकरे का नाम मुख्यमंत्री पद पर तय कराने में भी पवार की अहम भूमिका मानी जाती है. महाराष्ट्र में सरकार बनने के बाद शरद पवार का सियासी कद और बढ़ गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button