latest

SBI ने MCLR दर घटाया, 0.05 प्रतिशत की हुई कटौती

[मुंबई: 
भारतीय स्टेट बैंक (SBI) सभी परिपक्वता अवधि के ऋण पर सीमांत कोष की लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) में 0.05 प्रतिशत की कटौती करने की शुक्रवार को घोषणा की. बैंक ने कहा कि नयी दरें 10 फरवरी से प्रभावी होंगी. बैंक द्वारा चालू वित्त वर्ष में MCLR में यह लगातार नौवीं कटौती है. बैंक ने एक बयान में कहा कि इस कटौती के बाद एक साल की परिपक्वता अवधि वाले ऋण का एमसीएलआर कम होकर 7.85 प्रतिशत पर आ गया है. बैंक ने MCLR में यह कटौती रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के नतीजों की घोषणा के एक दिन बाद की है.

रिजर्व बैंक ने बैठक के बाद गुरुवार को रेपो दर को 5.15 प्रतिशत पर यथावत बनाये रखा. हालांकि केंद्रीय बैंक ने एक लाख करोड़ रुपये तक की राशि के लिये दीर्घकालिक रेपो की घोषणा की. इससे वाणिज्यिक बैंकों के लिये कर्ज जुटाना सस्ता हो गया. एसबीआई ने कहा कि उसने बैंकिंग प्रणाली में तरलता की अधिकता को देखते हुए दो करोड़ रुपये से कम के खुदरा जमा तथा दो करोड़ रुपये से अधिक के थोक जमा की ब्याज दरों में भी संशोधन किया है. खुदरा जमा के लिये ब्याज दर में 0.1 से 0.5 प्रतिशत तक की तथा थोक जमा में 0.25 प्रतिशत से 0.50 प्रतिशत तक की कटौती की गयी है. नयी दरें 10 फरवरी से प्रभावी हैं.
[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button