पॉलिटिक्स

निर्भया की मां पर दांव की तैयारी, टिकट देने को दलों में होड़

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा चुनावों में राजनीतिक पार्टियां निर्भया के गुनहगारों को मौत के तख्ते तक पहुंचाने की जंग लड़ने वाली उसकी मां पर दांव लगाने को तैयार हैं. सभी पार्टियों को अंदाजा है कि निर्भया की मां चुनाव में एक जिताऊ प्रत्याशी साबित हो सकती हैं. इसलिए अंदरूनी तौर पर राजनीतिक पार्टियां इस मौके को भुनाना चाहती हैं. भाजपा और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने तर्क देते हुए बताया कि जो महिला इतनी जद्दोजहद करके अपनी बेटी के लिए न्याय की लड़ाई लड़ सकती है, उससे बढ़ कर समाज में संघर्ष करने वाली महिला का जीता-जागता उदाहरण और क्या हो सकता है.

पार्टियों का कहना है कि निर्भया की मां चुनाव के लिए हां कर देती हैं तो न सिर्फ वह जिताऊ प्रत्याशी होंगी बल्कि दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में कुछ सीटों पर अच्छा सकारात्मक असर भी डाल सकेंगी, जिससे सीटों की संख्या बढ़ सकती है.

सब का फोकस आम आदमी; बिजली, पानी और फ्री मेट्रो पर जोर
मेरा एक ही मकसद, दोषियों को फांसी : निर्भया की मां
चुनाव लड़ने लड़ाने को लेकर हो रही चर्चा पर निर्भया की मां ने कहा कि कोई बात कहीं चली नहीं है. निर्भया की मां ने कहा कि अभी हमारा सिर्फ एक ही मकसद है कि निर्भया के दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकते हुए देखें. इसके अलावा इस वक्त हमारे पास और कोई दूसरी बात जेहन में ही नहीं है. उसके बाद अगर किसी पार्टी से चुनाव लड़ने की बात आयेगी तो देखा जायेगा.

आप, कांग्रेस और भाजपा कर रही मेनिफेस्टो की तैयारी

आम आदमी पार्टी

जनसंवाद के दौरान जनता से मिले सुझावों और विशेषज्ञों से सलाह-मशविरा कर आम आदमी पार्टी विधानसभा चुनाव के लिए अपना मेनिफेस्टो तैयार कर रही है. पार्टी सूत्रों का कहना है कि मेनिफेस्टो में मुख्य तौर पर 10 मुद्दों पर फोकस किया जायेगा.

‘पिछले काम रहेंगे जारी, नये काम की है तैयारी’ विजन के साथ मेनिफेस्टो तैयार किया जा रहा है. केजरीवाल पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि फ्री बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य, तीर्थ यात्रा और बस में महिलाओं का मुफ्त सफर आने वाले पांच साल में भी जारी रहेगा.

कांग्रेस पार्टी

चुनाव में कांग्रेस का ज्यादा जोर युवाओं को अपनी ओर आकर्षित करने पर है. सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस कॉलेज स्टूडेंट्स को फ्री मेट्रो की सुविधा देने का मन बना रही है. अब तक कांग्रेस ने कई ऐसी घोषणा कर दी है, जिसमें सबसे पहले 600 यूनिट तक बिजली फ्री देने का एलान किया है.

छोटी इंडस्ट्रीज को भी 200 यूनिट बिजली फ्री देने का वादा किया गया है. इसी तरह प्रदेश कांग्रेस दिल्ली में सभी वृद्धों, विधवाओं और दिव्यांगों की पेंशन राशि को बढ़ाकर हर महीने 5000 रुपये करने की बात कह रही है.

भारतीय जनता पार्टी

पार्टी घोषणा पत्र तैयार करने के लिए जनता की राय ले रही है. घोषणा पत्र तैयार करने के लिए पार्टी ने जो कमिटी बनायी है, उसकी अगुआई केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन कर रहे हैं.

भाजपा के घोषणा पत्र में सबसे बड़ी घोषणाएं बिजली-पानी के मुद्दे को लेकर ही की जायेंगी. मनोज तिवारी भी यह साफ कर चुके हैं कि आम आदमी पार्टी ने पिछले पांच साल में प्रति परिवार लोगों को जितना फायदा पहुंचाने का दावा किया है, भाजपा उससे कम से कम पांच गुना ज्यादा लाभ देगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button