न्यू दिल्ली

दिल्ली में हिंसा को लेकर राजनीति शुरू, बीजेपी और AAP ने एक-दूसरे पर लगाए आरोप

नई दिल्ली: दिल्ली में रविवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान हुई हिंसा को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) और आम आदमी पार्टी (AAP) ने एक-दूसरे पर हिंसा को लेकर आरोप लगाया है। बीजेपी ने हिंसा के लिए AAP को जिम्मेदार ठहराया और मांग की कि वह ‘लोगों को उकसाना’ बंद करे। हालांकि, AAP ने इससे इनकार किया। इस बीच, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को आरोप लगाया कि BJP ने CAA के खिलाफ दक्षिणी दिल्ली में एक प्रदर्शन के दौरान बसों को आग लगाने के लिए पुलिस का इस्तेमाल किया।

सिसोदिया ने विरोध स्थल की कुछ तस्वीरें भी ट्विटर पर पोस्ट कीं। उपमुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में BJP पर ‘गंदी राजनीति’ करने का आरोप लगाते हुए कहा कि AAP के विरोध के दौरान भड़की हिंसा की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। दिल्ली BJP प्रमुख मनोज तिवारी ने एक ट्वीट में कहा कि AAP के एक विधायक जनता को ‘उकसा’ रहे थे। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ‘गद्दार’ करार दिया। उन्होंने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल के इशारे पर AAP का विधायक जनता को भड़का रहा है। भारत का मुसलमान भारत के साथ है, तुम जैसे गद्दारों की बातों में आने वाला नहीं। लोगों को उकसाना बंद करो। दिल्ली की जनता गद्दारों को सबक सिखाएगी। AAP का पाप सामने आ रहा है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button