पॉलिटिक्स

विधायक रामबाई बसपा से निलंबित, माया से मांगी माफी

भोपाल। नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने पर पथरिया से बसपा विधायक रामबाई को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। उनके निलंबन की सूचना बसपा प्रमुख मायावती ने टिवटर पर दी। इसके बाद रामबाई के सुर बदल गए। उन्होंने मीडिया से कहा, जब बच्चे गलती करते हैं तो उन्हें घर से नहीं निकाला जाता। मेरे इस बयान से मायावती को दु:ख पहुंचा है तो माफी मांगती हूं। मैं उनसे दूर नहीं रह सकती। बसपा में हूं और हमेशा रहूंगीं।
दरअसल, नागरिकता संशोधन कानून का बसपा विरोध कर रही है, लेकिन रामबाई ने इसका समर्थन कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की तारीफ की। इसकी जानकारी मिलने पर मायावती ने रामबाई को निलंबित करने के साथ ही पार्टी के कार्यक्रमों में उनके शामिल होने पर रोक लगा दी।
ट्वीट कर कहा रामबाई को पहले भी दी थी चेतावनी –
मायावती ने ट्वीट में लिखा, बसपा में अनुशासन तोडऩे वालों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाती है। रामबाई को निलंबित किया जाता है। पार्टी नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष में नहीं है। फिर भी रामबाई ने समर्थन किया। पहले भी उन्हें कई बार पार्टी लाइन पर चलने की चेतावनी दी गई थी।
सदन में होगी असम्बद्ध विधायक –
निलंबन के बाद रामबाई विधानसभा में असम्बद्ध विधायक मानी जाएंगीं। विधानसभा के प्रमुख सचिव अवधेश प्रताप सिंह के अनुसार पार्टी का अधिकृत पत्र आने के बाद स्पीकर इस पर निर्णय लेंगे। निलंबन अवधि में असम्बद्ध सदस्य रहेंगीं।
रामबाई को पार्टी ने निलंबित कर दिया है। मायावती ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दे दी है। रामबाई को इसकी सूचना मिल गई होगी। आगे का निर्णय पार्टी सुप्रीमो ही लेंगीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button