महाराष्ट्र

महाराष्ट्र: बोईसर रसायन फैक्ट्री में हुए विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हुई

महाराष्ट्र के पालघर जिले के बोईसर में शनिवार शाम एक रसायन फैक्ट्री में हुए भीषण विस्फोट में एक और शव मिलने से मरने वालों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी।

जिले के पालक मंत्री दादा भूसे ने शनिवार देर रात को विस्फोट स्थल का दौरा किया और बाद में कहा कि प्रथमदृष्टया यह प्रतीत होता है कि फैक्ट्री ने मशीनरी की जांच करने लिए संबंधित अधिकारियों से अनुमति ली थी।

विस्फोट शनिवार शाम को कोलवाडे गांव स्थित अंक फार्मा के निर्माणाधीन संयंत्र में कुछ रसायन की जांच के दौरान हुआ, जिसमें छह लोगों की मौत हो गई। जिला आपदा नियंत्रण प्रकोष्ठ के प्रमुख विवेकानंद कदम ने बताया कि मलबा हटाने के अभियान के दौरान रविवार सुबह एक और शव मिला। मरने वाले की पहचान त्रिनाद दसारी (35) के तौर पर हुई है।

उन्होंने बताया कि घटनास्थल से एक लड़की अब भी लापता है, जिसकी तलाश जारी है। शनिवार को घटना में मारे गए छह लोगों की पहचान मोहन इंगले (45), साक्षी मदन (39), निशू सिंह (26), माधुरी सिंह (46), गोकुल जाधव (18) और इलियास अंसारी (45) (फैक्ट्री के वाचमैन) के तौर पर हुई है।

कदम ने बताया कि इसके अलावा घटना में सात लोग घायल हुए हैं जिनमें संयंत्र के मालिक नटवरभाई पटेल भी शामिल हैं, जो गंभीर रूप से घायल हैं। घटना में गंभीर रूप से घायल हुए लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि मलबा हटाने का काम अब भी जारी है।

अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट बोईसर के महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम (एमआईडीसी) क्षेत्र स्थित संयंत्र में शाम करीब सात बज कर 20 मिनट पर हुआ, जो मुंबई से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

उन्होंने बताया कि विस्फोट इतना जबरदस्त था कि इसे घटनास्थल से 15 किलोमीटर के दायरे में सुना गया और आस पास के कुछ घरों की खिड़कियां भी टूट गईं। कदम ने बताया कि विस्फोट के बाद निर्माणाधीन संयंत्र ढह गया और पास में स्थित दो अन्य रसायन फैक्ट्रियों को भी नुकसान पहुंचा।

बचाव अभियान के लिए शनिवार को राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की एक टीम को बुलाया गया था। बाद में भुसे ने पत्रकारों से कहा कि शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार के अनुसार संयंत्र ने मशीनरी जांच के लिए संबंधित अधिकारियों से अनुमति ली थी।

उन्होंने बताया कि हालांकि जिला स्वास्थ्य एवं सुरक्षा अधिकारी रविवार को घटनास्थल का दौरा और जांच करेंगे। रिपोर्ट के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी। बोईसर पुलिस थाना के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक मामले में दुर्घटनावश मौत की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

भुसे ने कहा कि बोईसर एमआईडीसी क्षेत्र में कई रसायन फैक्ट्रियों की मौजूदगी को देखते हुए भविष्य में ऐसी घटनाएं को रोकने के लिए कदम उठाने पर हम गंभीरता से विचार कर रहे हैं। मंत्री ने कहा कि आवश्यक कदमों पर चर्चा के लिए आगामी दिनों में सभी पक्षकारों के साथ बैठक करेंगे।

उन्होंने बताया कि हमलोग इस क्षेत्र के विशेषज्ञों से मार्गदर्शन और सुझाव मांगेंगे। इन संयंत्रों में समय-समय पर सुरक्षा उपायों की जांच की जाएगी। मंत्री ने यह भी कहा कि वह घटना की विस्तृत समीक्षा के लिए रविवार को भी वहां का दौरा करेंगे।

इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को मरने वालों के आश्रितों को पांच-पांच लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button