latest

IMF ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 4.8 फीसद किया, 2021 में 6.5 फीसद की संभावना

नई दिल्ली, पीटीआइ। अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) ने 2019 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को कम कर 4.8 फीसद कर दिया है। ग्रामीण भारत में आय वृद्धि कमजोर रहने और गैर-बैंकिग वित्तीय कंपनियों में दबाव का हवाला देते हुए वृद्धि अनुमान को कम किया गया है। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) का सालाना शिखर सम्मेलन शुरू होने से पहले वैश्विक अर्थव्यवस्था की स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए आईएमएफ ने वैश्विक वृद्धि दर के साथ साथ भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान में बदलाव की जानकारी दी है।

मुद्राकोष के मुताबिक, 2019 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 4.8 फीसद, 2020 में 5.8 फीसद और 2021 में 6.5 फीसद रह सकती है। आईएमएफ की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने कहा कि मुख्य रूप से गैर-बैंकिंग वित्तीय क्षेत्र में नरमी और ग्रामीण क्षेत्र की आय में कमजोर वृद्धि के कारण भारत की आर्थिक वृद्धि दर अनुमान कम किया गया है। बता दें कि गीता गोपीनाथ का जन्म भारत में हुआ है। चीन की आर्थिक वृद्धि दर 2020 में 0.2 फीसद बढ़कर 6 फीसद रहने का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button