दुनिया

IMF ने चेताया, FATF ने ब्लैक लिस्ट किया तो पाकिस्तान पैसे-पैसे को हो जाएगा मोहताज

पेरिस स्थित फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की ‘ग्रे’ सूची से फरवरी 2020 तक बाहर निकलने के लिए पाकिस्तान बहुत हाथ-पैर मार रहा है. FATF आतंकी गतिविधियों को मिलने वाले धन पर पैनी नजर रखने वाला ग्लोबल वॉचडॉग है.

FATF की ओर से दिए गए एक्शन प्लान पर अमल अपनी तरफ से पाकिस्तान दिखाने की कोशिश कर रहा है. वहीं इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड (IMF) ने पाकिस्तान को चेताया है कि अगर वो FATF को संतुष्ट करने में नाकाम रहा और ‘काली’ सूची में आ गया तो वो बहुत गंभीर आर्थिक संकट में फंस जाएगा.

IMF की स्टाफ लेवल रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के FATF की काली सूची में जाने का बड़ा खतरा है. ऐसा होता है तो पाकिस्तान में बाहर से पूंजी के आने पर बुरा असर पड़ेगा. रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में पूंजी आना बंद हो जाएगा और बाहर से होने वाला निवेश भी धड़ाम हो जाएगा.

रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान को IMF कार्यक्रम के तहत तालमेल बिठाने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है. पहली तिमाही में यानी जुलाई से सितंबर में इस दिशा में पाकिस्तान का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा.

रिपोर्ट के मुताबिक, पहली तिमाही के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य सेक्टर पर खर्च को 92 अरब रुपए तक सीमित रखा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में IMF कार्यक्रम को FATF की ओर से गंभीर खतरा है क्योंकि पाकिस्तान के काली सूची में जाने से पूंजी की आमद पर सीधा असर होगा, वहीं कर्ज जुटाने की व्यवस्था भी लड़खड़ा जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button