आम मुद्दे

बीआरटीएस कॉरिडोर में पहुंच जाता है, तो उस पर फौजदारी अपराध कायम कर उसकी धरपकड़ की जाएगी।

गांधीनगर. अहमदाबाद में बीआरटीएस की बस और अन्य वाहनों के बीच होने वाली दुर्घटनाओं पर नियंत्रण के लिए राजस्व मंत्री कौशिक पटेल, गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने उच्चाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में यह निर्णय लिया गया कि यदि कोई वाहन समेत बीआरटीएस कॉरिडोर में पहुंच जाता है, तो उस पर फौजदारी अपराध कायम कर उसकी धरपकड़ की जाएगी।

दुर्घटनाओं पर कमी लाने पर विचार

गृह विभाग की मुख्य सचिव संगीता सिंह, परिवहन सचिव सुनयना तोमर, डीजीपी शिवानंद झा, पुलिस कमिश्नर आशीष भाटिया, म्युनिसिपल कमिश्नर विजय नेहरा, मेयर बिजल पटेल समेत कई अधिकारी एवं विधायक इस बैठक में उपस्थित थे। इस अवसर पर गृहमंत्री ने कहा कि बीआरटीएस काॅरिडोर में दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए कई बिंदुओं पर चर्चा हुई। इसके अलावा पुलिस कमिश्नर की अध्यक्षता में एक विशेष कमेटी का गठन किया जाएगा। म्युनिसिपल कमिश्नर इसके उपाध्यक्ष होंगे।


कॉरिडोर में उच्च गुणवत्ता के सीसीटीवी कैमरे
बीआरटीएस कॉरिडोर में सीसीटीवी है, पर उनकी गुणवत्ता ठीक नहीं है, इसलिए अब वहां उच्च गुणवत्ता वाले सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।


वाहन चालकों को रोकने बाउंसर
बीआरटीएस कॉरिडोर में घुसने वाले वाहन चालकों को रोकने के लिए म्युनिसिपल ने बाउंसर्स का सहारा लिया है। सोमवार की सुबह पुलिस के साथ 8 बाउंसर्स ने जशोदानगर समेत कई कॉरिडोर में लोगों को रोककर उनसे जुर्माना वसूला। इसके अलावा बीआरटीएस कॉरिडोर में घुसने वाले वाहन बीएमडब्ल्यू, मर्सिडीज जैसी कार के मालिकों से 1500 से लेकर 3000 हजार रुपए दंडस्वरूप वसूले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button