वेस्ट बंगाल।

राज्यपाल धनखड़ ने ममता सरकार पर फिर साधा निशाना, बंगाल में कानून का शासन ध्वस्त हो चुका है

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार और राज्यपाल जगदीप धनखड़ के बीच चल रही सियासी खींचतान जारी है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल में लंबे समय से लगातार वार-पलटवार हो रहा है।

ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधते हुए राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बृहस्पतिवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस शासन को इसका आत्ममंथन करना चाहिए कि पश्चिम बंगाल में कानून का शासन क्यों ध्वस्त हो गया है। उधर, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि राज्यपाल एक खास दल के कार्यकर्ता की तरह व्यवहार कर रहे हैं।

शहादत दिवस के अवसर पर राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि देने के लिए उत्तरी 24 परगना के बैरकपुर में गांधी घाट पहुंचे धनखड़ ने संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया, ‘राज्य में कानून का शासन पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है। कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह बिगड़ चुकी है । राज्य सरकार को गंभीर आत्ममंथन करने की जरूरत है।’ 

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मंत्री सोवनदेव चट्टोपाध्याय ने कहा कि राज्यपाल एक राजनीतिक दल के कार्यकर्ता की तरह काम करना बंद करें क्योंकि उनका आचरण राज्यपाल पद के उपयुक्त नहीं है। पिछले साल जुलाई में राज्यपाल बनने के बाद से धनखड़ का कई मुद्दों पर राज्य सरकार के साथ टकराव चलता रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button