latest

Economic Survey में पहली बार थालीनॉमिक्स: महंगाई में कमी से बढ़ी थाली खरीदने की क्षमता, बिहार और महाराष्ट्र में गिरावट

नई दिल्‍ली, एजेंसी। आर्थिक सर्वेक्षण 2019-20 में पहली बार ‘थालीनॉमिक्स’ यानी भोजन के अर्थशास्त्र को समझने की कोशिश की गई है। शाकाहारी और मांसाहारी थाली को खरीदने की क्षमता के आधार पर यह समझने की कोशिश की गई है कि देश में एक पौष्टिक थाली के लिए आम आदमी को कितना खर्च करना पड़ता है और महंगाई की वजह से उसकी खरीदारी यानी उसको वहन करने की क्षमता पर क्या असर हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक, 2015-16 के बाद महंगाई में अगर कमी नहीं आती तो एक औसत परिवार को शाकाहारी भोजन के मामले सालाना करीब 11 हजार रुपये अधिक खर्च करने पड़ते।
[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button