न्यू दिल्ली

ट्रंप के सामने नागरिकता का मुद्दा बड़ा बनाने के लिए गरमाया शाहीन बाग, जाफराबाद का प्रदर्शन

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के ठीक एक दिन पहले पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में प्रदर्शनकारियों ने सड़कें जाम कर दिया है।जाफराबाद के अलावा पूर्वी दिल्ली के ही खुरेंजी और चांदबाग में भी प्रदर्शनकारी महिलाओं ने सड़कों पर उतरकर धरना देना शुरु कर दिया है। इसे राष्ट्रपति ट्रंप के दौरे के बीच नागरिकता के मुद्दे को जोरशोर से उठाने की सोची-समझी रणनीति के रुप में देखा जा रहा है।

चर्चा है कि ट्रंप अपनी भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से धार्मिक समानता के मुद्दे पर बातचीत कर सकते हैं, इसलिए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध को एक नया तेवर देकर इस मुद्दे को बड़ी सुर्खियों में बदलने की कोशिश की जा रही है। अगर राष्ट्रपति ट्रंप भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस मुद्दे पर कुछ भी बात करते हैं और कोई बयान दे देते हैं तो यह प्रदर्शनकारियों की बड़ी नैतिक जीत के रुप में देखा जाएगा, इसीलिए शाहीन बाग की तर्ज पर जाफराबाद में प्रदर्शन तेज हो गया है।

जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के ठीक नीचे सीलमपुर से गोकलपुरी जाने वाले रास्ते पर प्रदर्शनकारी महिलाओं ने धरना देकर प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। जाफराबाद से लगभग छ: किलोमीटर की दूरी पर पूर्वी दिल्ली के ही खुरेंजी और लगभग पांच किलोमीटर दूर चांदबाग में भी प्रदर्शनकारी सड़कों पर बैठ गए हैं।

इससे आवागमन में भारी समस्या पैदा हो गई है। हालांकि, प्रदर्शनकारियों ने सड़कों के एक तरफ ही धरना दिया है जिससे सड़कों के दूसरे रास्ते से आवागमन धीरे-धीरे चल रहा है। प्रदर्शनकारियों में शामिल युवा दूसरे रास्तों से आवागमन को आसान बनाने के लिए स्वयं सेवक की भूमिका में आ गए हैं और पारी-पारी से ट्रैफिक को रास्ता दिखाने का काम कर रहे हैं।

जाफराबाद में प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने कहा कि हमने मेट्रो स्टेशन बंद करने की कोई कोशिश नहीं की है। हमने इस तरह की कोई अपील भी नहीं की है, इसलिए मेट्रो प्रशासन चाहे तो मेट्रो सुविधा बहाल कर सकता है। वे पब्लिक को तकलीफ नहीं देना चाहते हैं, इसीलिए आवागमन को आसान बनाने के लिए उनके लोग स्वयं प्रशासन का सहयोग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button