चुनाव 2019

कांग्रेस को लगातार मिली दूसरी बार हार दिल्ली इलेक्शन में इस बार भी खाता नहीं खुला।

नई दिल्ली. चुनाव के रुझान और नतीजे बता रहे हैं कि कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिल रही है। यह लगातार दूसरा चुनाव है, जिसमें पार्टी खाता नहीं खोल पाई है। 2015 में भी कांग्रेस एक भी सीट नहीं हासिल कर पाई थी। इस बार पार्टी ने 66 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे, इनमें से केवल 3 ही अपनी जमानत बचा पाए। भाजपा 8 सीटों पर आगे है, यानी पिछली बार 5 ज्यादा। जिन 16 मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर उम्मीदवार उतारे, वहां 4 पर भाजपा जीती है। लेकिन, जिन तीन सीटों पर अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा ने प्रचार किया था वहां हार का सामना करना पड़ा।

सीटजीतने वाला प्रत्याशीकांग्रेस प्रत्याशी (वोट/प्रतिशत)
गांधी नगरअनिल कुमार बाजपेयी (भाजपा)अरविंदर सिंह लवली (21818/19%)
बादलीअजेश यादव (आप)देवेंद्र यादव (27,449/20%)
कस्तूरबा नगरमदन लाल (आप)अभिषेक दत्त (19586/19%)

70 में से 16 सीटों पर 15% से 50% तक मुस्लिम आबादी, आप 13 पर आगे

विधानसभा की 70 में से 16 सीटें ऐसी हैं, जो मुस्लिम बाहुल्य हैं। इन सीटों पर 15% से लेकर 50% तक की आबादी मुस्लिम है। इन 16 सीटों में से आप 12 पर जीती है, जबकि 4 पर भाजपा सफल हुई है। पिछले चुनाव में भाजपा ने इन 16 में से सिर्फ एक ही मुस्तफाबाद सीट जीती थी। लेकिन, इस बार मुस्तफाबाद सीट भाजपा के हाथ से निकल गई है। यहां से आप जीती है। तीन सीटों विकासपुरी, मादीपुर और रिठाला में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर और सांसद प्रवेश वर्मा ने रैली की, यहां भाजपा हार गई। विकासपुरी में वर्मा ने कहा था कि शाहीन बाग वाले आपके घरों में घुस जाएंगे और मांओं-बहनों से रेप कर लेंगे। वहीं, अनुराग ने रिठाला की रैली में नारा लगवाया- ‘देश के गद्दारों को…’, ‘गोली मारो…।’

इन 16 सीटों पर क्या हैं हाल?

विधानसभा सीटआबादीनतीजे2015 के नतीजे
चांदनी चौक20%आपआप
मटिया महल48%आपआप
बल्लीमारान38%आपआप
सीमापुरी 25%आपआप
सीलमपुर50%आपआप
घौंडा 15%भाजपाआप
बाबरपुर35%आपआप
मुस्तफाबाद36%आपभाजपा
करावल नगर20%भाजपाआप
ओखला43%आपआप
त्रिलोकपुरी18%आपआप
गांधी नगर22%भाजपाआप
किराड़ी30%आपआप
विकासपुरी28%आपआप
संगम विहार15%आपआप
बदरपुर15%भाजपाआप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button