पॉलिटिक्स

घटना स्थल पर पहुंचे सीएम केजरीवाल किया 10-10 लाख मुआवजे का ऐलान, बीजेपी ने भी की घोषणा

नई दिल्ली – दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में आग में 43 लोगों की मौत हो गई है। मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि घटना के जांच के आदेश दे दिए गए हैं और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने पीड़ितों के लिए मुआवजे का ऐलान भी किया। हालांकि, इस दौरान घटना से आक्रोशित लोगों ने नारेबाजी भी की। वहीं, बीजेपी ने भी पीड़ितों के लिए आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।
मुआवजे का ऐलान
सीएम केजरीवाल ने कहा, ‘यह बहुत दुखद घटना है। आग में 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। यह बहुत बड़ा हादसा है। मैंने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। जो भी दोषी होंगे उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाएंगे। मृतकों के परिवारों को 10-10 लाख मुआवजा दिया जाएगा। घायलों का मुफ्त इलाज कराया जाएगा और एक-एक लाख मुआवजा दिलाया जाएगा।’ अधिकतर लोगों के यूपी-बिहार से होने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए हर इंसान की जिंदगी महत्वपूर्ण है, वह कहीं का भी हो।’

सात दिन के भीतर मांगी रिपोर्ट
दिल्ली सरकार ने अनाज मंडी क्षेत्र की फैक्ट्री में लगी आग की घटना में जांच के आदेश देते हुए सात दिन के भीतर रिपोर्ट मांगी है। दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने जिला मजिस्ट्रेट (मध्य) को जांच करने और सात दिन के अंदर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया।

दिल्ली पुलिस भी करेगी जांच
दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा कि दिल्ली पुलिस भी मामले की जांच करेगी। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा, ‘हमारी पहली प्राथमिकता लोगों को निकालने की थी। लोगों को निकाला जा चुका है, पूरी बिल्डिंग की तलाशी ली जा चुकी है, कोई अंदर नहीं फंसा है। कुछ देर में एफएसएल की टीम ने मौके का मुआयना करेगी।’

बीजेपी ने भी किया मुआवजे का ऐलान
घटनास्थल पर पहुंचे दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी मृतकों और घायलों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। उन्होंने कहा, ‘यह बहुत दुखद घटना है। हम पीड़ितों के प्रति संवेदना प्रकट करते हैं। हम प्रभावित लोगों के साथ हैं। पार्टी की ओर मृतकों के परिवारों को 5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। घायलों को 25-25 हजार रुपये दिए जाएंगे।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button