latest

Climate Change: वैश्विक तापमान एक डिग्री सेल्सियस बढ़ने पर छह दिन पहले ही पिघल रही बर्फ

: जलवायु परिवर्तन की वजह से लगातार ग्लेशियरों के पिघलने की घटनाएं आती रहती हैं। शोधकर्ताओं ने ग्लेशियरों पर पड़ रहे प्रभाव और बर्फ पिघलने की दर आदि पर तमाम अध्ययन किए हैं। लेकिन, पहली बार नदियों में जमने वाली बर्फ पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों का अध्ययन किया गया है।

शोधकर्ताओं ने बताया है कि वैश्विक तापमान में एक प्रतिशत की बढ़ोतरी होने से नदियों में प्रत्येक वर्ष जमने वाली बर्फ छह दिन पहले ही पिघल जाएगी। इसके पर्यावरणीय प्रभाव के साथ ही आर्थिक प्रभाव भी देखने को मिलेंगे। नेचर जर्नल में इस अध्ययन को प्रकाशित किया गया है।

40 हजार तस्वीरों का किया अध्ययन

अमेरिका की नार्थ कैरोलिना यूनिवर्सिटी के एक पोस्टडॉक्टरल स्कॉलर जियाओ यांग ने कहा, ‘हमने दुनियाभर में मौसमी जमने वाली नदियों को मापने के लिए 34 वर्षो तक सेटेलाइट द्वारा जुटाई गई करीब 40,000 तस्वीरों का अध्ययन किया। इस दौरान पाया गया कि सभी नदियों का 56 प्रतिशत भाग सर्दियों में जम जाता है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button