राष्ट्रीय समाचार

डोकलाम के बाद सेना के कामकाज में बदलाव, अब मिलेगा एक और डेप्युटी चीफ

नई दिल्ली: भारतीय सेना के ढांचे में बड़े बदलाव की प्रक्रिया चल रही है और शुरुआत मुख्यालय में बदलाव से हो रही है। आर्मी हेडक्वॉर्टर में बदलाव का एक अहम बिंदु है, सेना में एक और डेप्युटी चीफ का पद बनाना। आर्मी हेडक्वॉर्टर में अभी दो डेप्युटी चीफ के पद हैं, लेकिन एक और डेप्युटी चीफ की जरूरत डोकलाम विवाद के बाद महसूस की गई। रक्षा मंत्रालय से इस पर सैद्धांतिक सहमति मिल गई है।

रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक नए डेप्युटी चीफ का पद बनाने के लिए अपॉइंटमेंट कमिटी ऑफ द कैबिनेट यानी एसीसी की मंजूरी की जरूरत पड़ेगी और आर्मी हेडक्वॉर्टर में अहम बदलावों की प्रक्रिया एसीसी की हरी झंडी के इंतजार में रुकी है।

2017 में डोकलाम में 72 दिनों तक भारत और चीन के सैनिक आमने सामने थे। एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि उसका जब रिव्यू किया गया तो एक नया सिस्टम बनाने की जरूरत महसूस हुई। मौजूदा सिस्टम में आर्मी के ढांचे में एक महकमा इंटेलिजेंस की जिम्मेदारी देखता है, दूसरा लॉजिस्टिक की तो एक अलग महकमा ऑपरेशंस की। आर्मी के वाइस चीफ के अंडर ये सब काम करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button