latestइकोनामी एड फ़ाइनेंसबजट 2020

Budget 2020 Preview: निर्मला सीतारमण शनिवार को पेश करेंगी अपना दूसरा बजट, जानें किन मोर्चों पर आम लोगों को मिल सकती है राहत

[Budget 2020 Preview Nirmala Sitaraman वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण शनिवार को 11 बजे अपना दूसरा बजट भाषण पढ़ेंगी। Modi Government 2.0 के इस दूसरे बजट पर देश और दुनिया की निगाहें लगी हुई हैं, क्योंकि चालू वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार के एक दशक के न्यूनतम स्तर पर रहने का अनुमान प्रकट किया गया है। दूसरी ओर टैक्स कलेक्शन में भी उल्लेखनीय कमी आई है और राजकोषीय घाटे के भी सरकार के बजट लक्ष्य से अधिक रहने का अनुमान है। सीतारमण के समक्ष इस बजट में संतुलन कायम करने की सबसे बड़ी चुनौती है। सितंबर, 2019 में कॉरपोरेट टैक्स में भारी कमी के बाद देश का मिडिल क्लास इनकम टैक्स के मोर्चे पर रिलीफ की उम्मीद कर रहा है। आइए जानते हैं कि सीतारमण के बजट के पिटारे में क्या कुछ खास रहने की उम्मीद हैः

  1. Income Tax Slab और रेट में बदलावः कंपनियों को टैक्स के मोर्चे पर रिलीफ मिलने के बाद देश के नौकरीपेशा लोग इस बात की उम्मीद कर रहे हैं कि वित्त मंत्री के बजट के पिटारे से इस बार उनके लिए भी राहत का ऐलान हो सकता है। टैक्स एवं निवेश मामलों के विशेषज्ञ बलवंत जैन के मुताबिक, इस समय डिमांड को बूस्ट करने की सबसे ज्यादा जरूरत है। इसके लिए जरूरी है कि देश के मिडिल क्लास के हाथ में पैसे हों। विशेषज्ञों की राय में वित्त वर्ष 2020-21 के बजट में पांच लाख रुपये से दस लाख रुपये तक की आय वाले लोगों के लिए कर में कटौती की सबसे ज्यादा जरूरत है, क्योंकि वे 20 फीसद की दर से टैक्स का भुगतान कर रहे हैं।
    [

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button