latestइकोनामी एड फ़ाइनेंस

Budget 2020: बजट में कुछ जटिल शब्दों का भी होता है प्रयोग, जानिए क्या है इनका मतलब

[: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा आम बजट एक फरवरी को पेश होने जा रहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस बजट में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की कई कोशिशें करती देखीं जा सकती हैं। बजट में एक विशेष शब्दावली का प्रयोग होता है। अक्सर बजट पेश होने के दौरान आम लोग इन जटिल शब्दों को समझ नहीं पाते हैं। आज हम आपको बजट से जुड़े कुछ ऐसे ही शब्दों से रूबरू करवाने वाले हैं।

बैलेंस बजट: जब बजट में प्राप्तियां मौजूदा खर्चों के बराबर होती हैं, तो उस केंद्रीय बजट को बैलेंस बजट कहा जाता है। बैलेंस बजट होने पर आय और व्यय पर लगने वाला टैक्स पर्याप्त माना जाता है और इससे वस्तु व सेवाओं के भुगतान के साथ-साथ राष्ट्रीय कर्ज का ब्याज भी चुकाया जा सकता है।

उत्पाद शुल्क: जो टैक्स देश में उत्पादित होने वाली वस्तुओं पर लगता है, उसे एक्साइज ड्यूटी या उत्पाद शुल्क कहते हैं। यह टैक्स किसी देश के अंदर बनने वाली सभी वस्तुओं पर लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button