latest

Budget 2020: जॉब पर होगा बजट में खास जोर, हो सकते हैं ये अहम ऐलान

.
बजट 2020 पेश किये जाने में एक पखवाड़े से भी कम का समय बचा है और सरकार का जोर Economic Slowdown दूर करने के साथ Job के अवसर बढ़ाने पर रहेगा। इसके लिए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण कृषि और बुनियादी ढांचा क्षेत्र के साथ सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग क्षेत्र के लिए विशिष्ट उपायों का एलान कर सकती हैं। आर्थिक सुस्ती के चलते रोजगार की स्थिति और बिगड़ गई है।
Skill India, Startup, Make in India जैसे मिशनों ने कुछ हद तक रोजगार सृजन का काम किया है। हालांकि, आर्थिक सुस्ती ने इन मिशनों के प्रभाव को सीमित कर दिया है। विश्लेषकों के मुताबिक स्वरूप में बदलाव ने MGNREGA जैसी रोजगारमूलक स्कीम को संपत्ति सृजन वाली स्कीम बना दिया है। इसमें सुधार के लिए बजट में मनरेगा को लेकर कुछ एलान संभव हैं।

कृषि और इससे जुड़े उद्योगों में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए विशिष्ट उपायों की घोषणा भी की जा सकती है। पिछले पांच वर्षो में ग्रामीण मजदूरी की दर में 0.6 फीसद की औसत वृद्धि हुई है। ग्रामीण आमदनी में बढ़ोतरी से गांवों में औद्योगिक सामानों की खपत भी बढ़ेगी। इससे घटती मांग का संकट दूर होगा और अर्थव्यस्था की हालत सुधरेगी।

भारत नेट और मोबाइल नेटवर्क के विस्तार से डिजिटल ढांचे तथा पोस्ट पेमेंट बैंक ढांचे से वित्तीय गतिविधियों के विस्तार के चलते गांवों में रोजगार के नए अवसर सृजित होने की संभावना है। बजट में इन योजनाओं में तेजी लाने के कुछ नए उपाय घोषित किए जा सकते हैं।

शहरी क्षेत्रों में रोजगार बढ़ाने के लिए सरकार का फोकस सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों तथा सेवा क्षेत्र से जुड़ी गतिविधियों में जान फूंकने पर होगा। इसके लिए इस क्षेत्र को आसान कर्ज के साथ करों में और राहत की घोषणाएं हो सकती है।

रिटेल क्षेत्र में विदेशी निवेश तथा ई-कॉमर्स वाले ऑनलाइन बिक्री चैनलों के कारण परंपरागत देसी किराना दुकानदारों को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। इससे उबरने के लिए देश के सवा करोड़ देसी किराना स्टोर बजट से राहत की उम्मीद कर रहे हैं। इन्हें डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लाने तथा ऑनलाइन कंपनियों के साथ साङोदारी के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार कोई बड़ी स्कीम ला सकती है। इससे शहरी युवाओं को रोजगार का नया और बड़ा प्लेटफॉर्म मिलने की आशा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button