ताजा

भाजपा ने बीएमसी में सौंपी उत्तर भारतीय को कमान, आजमगढ़ के विनोद मिश्र बने दल के नेता

एशिया की सबसे वैभवशाली मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) में भाजपा ने उत्तर भारतीय को पार्टी की कमान सौंपी है। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के विनोद मिश्र को बीएमसी में 83 सदस्यीय पार्षद दल का नेता चुना गया है। बीएमसी के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब उत्तर प्रदेश के किसी पार्षद को भाजपा ने बीएमसी में पार्टी दल का नेता बनाया है।

आजमगढ़ के लालगंज तहसील स्थित ग्राम भटकारी के मूल निवासी विनोद मिश्र मुंबई प्रदेश भाजपा के मंत्री हैं। वह दि मालाड सहकारी बैंक लि. के चेयरमैन भी हैं। माना जा रहा है कि भाजपा ने साल 2022 के बीएमसी चुनाव को देखते हुए मिश्र को यह बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। मिश्र ने साल 2017 के बीएमसी चुनाव में मालाड के वार्ड क्रमांक 43 कुरार विलेज से चुनाव जीता था। 

वह पूर्व मुख्यमंत्री व विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस के बेहद करीबी हैं। मिश्र ने कहा कि पार्टी ने जो जिम्मेदारी दी है, उस पर खरा उतरने की कोशिश करूंगा। मुंबई भाजपा ने विनोद मिश्र को बीएमसी में पार्टी दल का नेता नियुक्त करने के साथ ही बरिष्ठ पार्षद प्रभाकर शिंदे को विपक्ष का नेता, उज्वला मोडक एवं रीता मकवाना को उपनेता चयनित किया है। 

बता दें कि मुंबई महानगरपालिका का वार्षिक बजट देश के करीब 10 राज्यों से भी अधिक है। इसलिए बीएमसी को न सिर्फ देश की बल्कि एशिया के सबसे अमीर नगर निगम के रूप में जाना जाता है।

मौजूदा समय में बीएमसी में शिवसेना की सत्ता है। कुल 227 पार्षदों में से 96 शिवसेना और 83 भाजपा के हैं। जाति प्रमाण पत्र के विवाद में फंसने से भाजपा के दो पार्षदों की सदस्यता रद्द हो चुकी है। इसके अलावा कांग्रेस के 29, एनसीपी के 8, सपा के 6, एमआईएम के 2 और मनसे के 1 सदस्य सहित छह निर्दलीय पार्षद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button