बिहार

Bihar Assembly Election: मगध के मध्य क्षेत्र में सिर्फ चलती है लालू-नीतीश की, बाकी सब नाम के

जदयू और राजद के लिए जहानाबाद की सियासी धरती बैटल फील्ड की तरह है। यहां गठबंधन का न तो असर है और न हाल-फिलहाल में कोई आसार। न भाजपा की चलती है, न कांग्रेस की। यहां की राजनीति में नीतीश कुमार और लालू प्रसाद का सीधा दखल है। पूर्व सांसद जगदीश शर्मा के जेल से निकलते ही जहानाबाद का मैदान फिर सजने लगा है। विधानसभा चुनाव के दौरान जहानाबाद में सक्रिय छह हस्तियों की प्रतिष्ठा दांव पर होगी। जगदीश शर्मा के अलावा जदयू सांसद चंदेश्वर चंद्रवंशी, पूर्व सांसद सुरेंद्र यादव, अरुण कुमार, रामजतन सिन्हा और शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा मुख्य रूप से सामाजिक समीकरण एवं वोट बैंक को प्रभावित करेंगे। जमानत पर जेल से बाहर आए जगदीश शर्मा खुद चुनाव लडऩे से वंचित हैं, लेकिन पुत्र राहुल शर्मा के लिए कारपेट बिछाने में जुट गए हैं। विधानसभा चुनाव में राहुल ने जीतनराम मांझी के दल से चुनाव लड़ा था। हार गए। सबक लेकर लोकसभा चुनाव से पहले जदयू में वापस आ गए। चंदेश्वर के पक्ष में प्रचार किया और जीत की राह बनाई। अब अपने पिता की परंपरागत सीट घोसी से जदयू के स्वाभाविक दावेदार हैं। माना जा रहा है कि राहुल की घोसी से दावेदारी के बाद कृष्णनंदन वर्मा को जहानाबाद या कुर्था भेजा जा सकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button