बिजनेस

आर्सेलरमित्तल ने 42,000 करोड़ रुपए देके भुगतान अधिग्रहण के प्रक्रिया शुरू कर दी।

नई दिल्ली. आर्सेलरमित्तल ने एस्सार स्टील के अधिग्रहण के लिए 42,000 करोड़ रुपए के भुगतान की प्रक्रिया शुरू कर दी है। सोमवार तक भुगतान पूरा होने की उम्मीद है। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से शुक्रवार को यह जानकारी दी। लक्ष्मी निवास मित्तल की कंपनी आर्सेलरमित्तल ने कर्ज में डूबी एस्सार स्टील के लिए दिवालिया प्रक्रिया के तहत सबसे बड़ी बोली लगाई थी। पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट से आखिरी मंजूरी मिलने के बाद अधिग्रहण का रास्ता साफ हो गया था। आर्सेलरमित्तल की ओर से मिलने वाला भुगतान इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) के तहत सबसे बड़ी रिकवरी होगी।

रेजोल्यूशन प्लान के मुताबिक केनरा बैंक को 3493 करोड़ रुपए मिलेंगे
एस्सार स्टील की कमेटी और ऑफ क्रेडिटर्स की ओर से मंजूर प्लान के मुताबिक एसबीआई को सबसे ज्यादा 12,161 करोड़ रुपए मिलेंगे। बैंक ने 13,226 रुपए का दावा पेश किया था। केनरा बैंक को 3,493 करोड़ रुपए और आईसीआईसीआई बैंक को 2,110 करोड़ मिलेंगे। इन दोनों बैंकों के दावे 3,798 करोड़ और 2,294 करोड़ के थे।

एस्सार स्टील के मामले में नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्यूनल (एनसीएलएटी) ने जुलाई में आदेश दिया था कि वसूली में ऑपरेशनल क्रेडिटर्स को फाइनेंशियल क्रेडिटर्स (वित्तीय कर्जदाताओं) के बराबर माना जाए। एस्सार स्टील के वित्तीय कर्जदाताओं (बैंकों) ने इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया कि वित्तीय कर्जदाता ही ऊपर होते हैं, न्याय प्राधिकरण, कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स के फैसले में दखल नहीं दे सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button