ताजा

गैस के दाम बढ़ने से उज्ज्वला के 25 फीसदी लाभार्थियों ने दोबारा नहीं भराए सिलेंडर

एलपीजी के दाम बढ़ने से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों पर इसका प्रभाव पड़ा है। कीमत बढ़ने से उज्ज्वला योजना के 25 फीसदी लाभार्थियों ने दोबारा कभी सिलेंडर नहीं भरवाया। लाभार्थी लकड़ी, कोयला जैसे अशुद्ध ईंधन के इस्तेमाल करने पर मजबूर हो गए हैं। एसबीआई रिसर्च की हालिया रिपोर्ट इकोप्रैप में यह खुलासा हुआ है। 

रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत अगस्त 2019 के 575 रुपये प्रति सिलेंडर से बढ़कर फरवरी 2020 में 859 रुपये हो गई है। सिर्फ 6 महीनों में ही सिलेंडर 284 रुपये महंगे हो गए हैं। एसबीआई रिसर्च के दौरान दिसंबर 2018 तक बांटे गए 5.92 करोड़ कनेक्शनों और तीन जून, 2019 तक दोबारा भराए गए सिलेंडरों के राज्य-वार डेटा का विश्लेषण किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button