latest

2020 में 9 से 10 फीसद रहेगी वृद्धि दर, क्रिसिल को उम्मीद वित्त वर्ष 2020-21 में 11 फीसद की दर से बढ़ेगा क्षेत्र

टूथपेस्ट, साबुन, तेल, घी जैसे उत्पाद बनाने वाले एफएमसीजी क्षेत्र की स्थिति में इस साल भी कोई खास बदलाव की उम्मीद नहीं है। अनुमान लगाया जा रहा है कि साल 2020 में इस क्षेत्र की वृद्धि दर 9 से 10 फीसद तक रहेगी। नीलसन के मुताबिक साल 2019 में भी इस क्षेत्र की वृद्धि दर 9.7 फीसद रही है। जबकि क्रिसिल का मानना है कि वित्त वर्ष 2020-21 में इस क्षेत्र की वृद्धि दर 11 फीसद हो सकती है। एफएमसीजी क्षेत्र पर कुछ एजेंसियों की तरफ से कराये गए सर्वे में यह बात उभर कर आई है कि देश में इन उत्पादों की मांग में पिछले साल के मुकाबले बहुत ज्यादा परिवर्तन नहीं आया है।

नीलसन की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक साल 2019 में एफएमसीजी की ग्रोथ में ई-कामर्स प्लेटफार्म पर हुई बिक्री भी शामिल है। नीलसन ग्लोबल कनेक्ट साउथ एशिया जोन के प्रेसिडेंट प्रसून बसु ने कहा, ‘साल 2019 एफएमसीजी इंडस्ट्री के लिए मुश्किल भरा वर्ष रहा। साल 2018 में इसमें 13.5 फीसद की ग्रोथ हुई थी। लेकिन अब इसमें स्थिरता दिख रही है। इसलिए बीते वर्ष की वृद्धि दर इस साल भी बने रहने के आसार हैं।’साल 2019 की चौथी तिमाही में एफएमसीजी इंडस्ट्री की ग्रोथ 6.6 फीसद पर ही रुक गई। यदि इसमें ई-कामर्स में हुई बिक्री को शामिल कर लिया जाए तो वृद्धि की दर 7.3 फीसद हो जाती है। पिछली तिमाहियों में आयी तेज गिरावट के मुकाबले इसमें चौथी तिमाही में गिरावट की रफ्तार थमती दिखी है।
[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button