ताजा

स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस ने आईएनएस विक्रमादित्य पर की सफल लैंडिंग, बढ़ेगी नौसेना की ताकत

भारतीय नौसेना के लिए आज बड़ा दिन है। स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस ने विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य पर अपनी पहली सफल लैंडिंग की। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के अधिकारियों के मुताबिक उम्मीद की जा रही है कि यह लड़ाकू विमान जल्द ही यहां से उड़ान भी भरेगा।

तेजस की सफल अरेस्टेड लैंडिंग के साथ नौसेना ने इतिहास रच दिया है। भारतीय नौसेना ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह पहली बार है जब कोई स्वदेशी लड़ाकू विमान किसी विमानवाहक पोत पर उतरा है।शनिवार सुबह 10 बजकर दो मिनट पर इसकी लैंडिंग हुई। अधिकारियों ने बताया कि कमांडर जयदीप मावलंकर ने यह लैंडिंग कराई। इस सफल लैंडिंग के बाद रूस, अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन के बाद भारत विमान वाहक पोत पर अरेस्टेड लैंडिंग कराने वाला छठा देश बन गया है।

डीआरडीओ द्वारा बनाया गया तेजस एयरक्राफ्ट अरेस्टर वायर की मदद से आईएनएस विक्रमादित्य पर उतरा। एरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी नौसेना के साथ मिलकर इस लड़ाकू विमान को विकसित कर रही है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तेजस की लैंडिंग के बाद डीआरडीओ और नौसेना को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया, ‘डीआरडीओ द्वारा विकसित तेजस की आईएनएस विक्रमादित्य पर पहली लैंडिंग के बारे में जानकर बेहद खुशी हुई। यह सफल लैंडिंग भारतीय लड़ाकू विमान विकास कार्यक्रम के इतिहास में एक शानदार पल है। इस सफलता के लिए डीआरडीओ और नौसेना को बधाई।’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button