latest

श्रीलंका के गृहयुद्ध में लापता 20 हजार लोगों के बारे में राष्‍ट्रपति ने दी जानकारी

[: कोलंबो, आइएएनएस। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे ने कहा है कि देश में गृहयुद्ध के दौरान लापता हुए 20 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की रेजिडेंट कोऑर्डिनेटर हाना सिंगर के साथ हुई बैठक के दौरान राजपक्षे ने यह बात कही।

2009 में कड़ी सैन्य कार्रवाई के बाद खत्म हुआ था युद्ध
इस बैठक के बाद राष्ट्रपति के दफ्तर से जारी बयान में कहा गया कि लोगों के लापता होने के पीछे की मुख्य वजह आतंकी संगठन लिट्टे था। वर्तमान सरकार अब इन लोगों के मृत्यु प्रमाणपत्र जारी करने की पहल करेगी। श्रीलंका में तमिल विद्रोहियों और सरकार के बीच करीब तीन दशक तक गृहयुद्ध चला था। 2009 में कड़ी सैन्य कार्रवाई के बाद यह युद्ध खत्म हुआ था। इस गृहयुद्ध में करीब एक लाख लोग मारे गए थे। 20 हजार से ज्यादा लोग लापता हैं।

इसके लिए तत्कालीन राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे की अगुआई वाली सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाता रहा है। 2009 की सैन्य कार्रवाई की कमान तत्कालीन रक्षा मंत्री गोतबाया के हाथ में थी। उन पर युद्ध अपराध जैसे गंभीर आरोप भी लगे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button