राष्ट्रीय समाचार

राज ठाकरे बोले, सीएए और एनआरसी आर्थिक मुद्दों से ध्यान भटकाने की साजिश

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना अध्यक्ष राज ठाकरे ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) और प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। ठाकर ने कहा कि इस बहाने केंद्र सरकार आर्थिक संकट से ध्यान भटकाने की साजिश रच रही है। 

राज ठाकरे ने हाल में बने सीएए के तहत अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से प्रवासियों की आमदपर भी सवाल खड़े किए। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सीएए और एनआरसी के कारण देश में दंगे जैसी स्थिति है। मैं सोच रहा हूं कि इन दोनों फैसलों को कितने लोग समझते हैं। इन दोनों मुद्दों के अलग पक्ष हैं। 

राज ठाकरे ने तंज कसते हुए कहा कि आर्थिक मंदी से ध्यान भटकाने के लिए खेले गए सियासी खेल के लिए मैं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को बधाई देता हूं। 
उन्होंने पूछा कि अगर आप आधार कार्ड दिखाकर मतदान कर सकते हैं तो उसी दस्तावेज से आपकी नागरिकता साबित क्यों नहीं हो सकती? लोगों को बायोमीट्रिक परीक्षण से क्यों गुजरना पड़ा? 

सीएए के प्रावधानों के बारे में ठाकरे ने कहा कि 135 करोड़ की जनसंख्या वाले भारत को और अधिक लोग नहीं चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को हिन्दू-मुस्लिम का रंग देने की जरूरत नहीं है।

इसके साथ ही उन्होंने महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी गठबंधन पर हमला बोला। राज ठाकरे ने कहा कि शिवसेना का राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के साथ हाथ मिलाना सही नहीं है। लोग महाविकास अघाड़ी सरकार से नाखुश हैं। इसके नतीजों को अगले चुनावों में महसूस किया जाएगा।

राज ठाकरे ने राज्य में हालिया राजनीतिक घटनाक्रम को लोगों का अपमान बताया। उन्होंने भाजपा-शिवसेना गठबंधन को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी ने जनता की भावनाओं का अपमान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button