latest

यूपी सरकार ने हाई कोर्ट को बताया- छात्रों ने खुद तोड़ा एएमयू का गेट, 7 जनवरी को आएगा कोर्ट का फैसला

[: प्रयागराज, जेएनएन। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में हुए छात्र आंदोलन में पुलिस उत्पीड़न को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट में दाखिल जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने आंदोलनकारियों की कलई खोल दी है।

सरकार की तरफ से हलफनामा दाखिल कर कोर्ट को बताया गया कि छात्रों ने स्वयं ही विश्वविद्यालय का गेट तोड़ा था। विश्वविद्यालय प्रशासन के बुलाने पर परिसर में पुलिस गई थी। परिसर के भीतर पुलिस ने कोई फायरिंग नहीं की और न ही आवश्यकता से अधिक बल का प्रयोग किया। सरकार की तरफ से घटना के समय की सीसीटीवी फुटेज भी सीडी के माध्यम से कोर्ट में दाखिल की गई है। वहीं याची की तरफ से घटना की एसआइटी से जांच कराने की मांग करते हुए कुछ अधिकारियों के नाम भी सुझाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button