latest

बैंक ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, SBI ने बदली एफडी पर ब्याज दर

[: देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने ग्राहकों को झटका दिया है। एसबीआई ने रिटेल टर्म डिपॉजिट यानी फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर मिलने वाले ब्याज में कमी कर दी है। बैंक ने एफडी पर ब्याज दर में 15 बेसिस प्वाइंट की कमी की है। इस टर्म डिपॉजिट की मियाद एक साल से 10 साल तक की है। नई दर 10 जनवरी 2020 से लागू हो गई हैं।
[: आइए जानते हैं कि दो करोड़ से कम की एफडी पर आपको कितना ब्याज मिलेगा।

अवधि आम नागरिकों के लिए मौजूदा दर (10 नवंबर 2019 से) आम नागरिकों के लिए नई दर (10 जनवरी 2020 से) वरिष्ठ नागरिकों के लिए मौजूदा दर (10 नवंबर 2019 से) वरिष्ठ नागरिकों के लिए नई दर (10 जनवरी 2020 से)
सात से 45 दिन 4.50 फीसदी 4.50 फीसदी पांच फीसदी पांच फीसदी
46 से 179 दिन 5.50 फीसदी 5.50 फीसदी छह फीसदी छह फीसदी
180 से 210 दिन 5.80 फीसदी 5.80 फीसदी 6.30 फीसदी 6.30 फीसदी
211 से एक साल 5.80 फीसदी 5.80 फीसदी 6.30 फीसदी 6.30 फीसदी
एक साल से दो साल 6.25 फीसदी 6.1 फीसदी 6.75 फीसदी 6.6 फीसदी
दो साल से तीन साल 6.25 फीसदी 6.1 फीसदी 6.75 फीसदी 6.6 फीसदी
तीन साल से पांच साल 6.25 फीसदी 6.1 फीसदी 6.75 फीसदी 6.6 फीसदी
पांच साल से 10 साल 6.25 फीसदी 6.1 फीसदी 6.75 फीसदी 6.6 फीसदी
ऐसे चुनें सही एफडी
बैंक हर अवधि की एफडी पर अलग ब्याज दर देते हैं। निवेश के लक्ष्य को देखकर सही अवधि और ज्यादा ब्याज दर चुनें।
पैसे लगाने से पहले बैंक की साख को परखें और क्रिसिल, इक्रा पर रेटिंग की जांच करें।
भुगतान के तरीकों की जानकारी लें। बैंक संचयी एफडी में ब्याज दर का भुगतान परिपक्वता अवधि पर ही करते हैं। गैर संचयी एफडी पर ब्याज का भुगतान विकल्प के तहत तिमाही, छमाही या सालाना हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button