इकोनामी एड फ़ाइनेंस

बजट में दूरदर्शिता का अभाव, वित्त मंत्री द्वारा भाषण में स्लोडाउन शब्द का प्रयोग ना करना भी चौंकाने वाला: आशिमा गोयल

[प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी-पीएम) की सदस्य आशिमा गोयल ने इस बार के आम बजट में दूरदृष्टि का अभाव बताया है। उन्होंने कहा कि राजकोषीय घाटे को लेकर ढील और आयकर को सरल बनाने संबंधी सुधार बेहतर हैं। लेकिन दूरदृष्टि के अभाव के चलते बजट निराशाजनक है। ईएसी-पीएम की अंशकालिक सदस्य गोयल ने कहा कि वित्त मंत्री द्वारा दिए गए करीब तीन घंटे लंबे बजट भाषण में एक बार भी ‘स्लोडाउन’ शब्द का प्रयोग नहीं किया जाना चौंकाने वाला है।

इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट फॉर डेवलपमेंट रिसर्च के एक कार्यक्रम में गोयल ने बजट को विकास के लिए राजस्व प्रोत्साहन और खर्च के लिए जिम्मेदारी के बीच संतुलन स्थापित करने वाला दस्तावेज बताया। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में सभी लोग आर्थिक सुस्ती को लेकर चिंतित हैं। विकास दर पांच परसेंट के निचले स्तर पर है। मगर बजट में आर्थिक सुस्ती से निपटने के उपायों पर कोई चर्चा नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि बजट पेश करते वक्त सीतारमण ऐसी विरोधाभासी स्थिति में थीं जहां किसी न किसी को तो नाखुश होना ही था।
[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button