latest

पूरे विश्व में सबसे खराब ट्रैफिक बंगलूरू में, टॉप 10 में चार भारत के शहर

[पूरे विश्व में भारत की सिलिकॉन वैली के नाम से विख्यात बंगलूरू शहर का ट्रैफिक सबसे खराब है। लिस्ट के अनुसार टॉप 10 में चार शहर भारत के हैं। लोकेशन टेक्नोलॉजी के विशेषज्ञ, टॉमटॉम ने यातायात इंडेक्स के नतीजे प्रस्तुत किए हैं जिसमें 57 देशों के 416 शहरों में यातायात रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। 

विकराल हो गई देश में यातायात व्यवस्था

भारत समेत दुनिया भर के शहरों में ट्रैफिक एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है और पिछले एक दशक में गाड़ियों की लगातार बढ़ती संख्या ने इसका और बुरा हाल कर दिया है। ट्रैफिक के मामले में भारत के बड़े शहर दुनिया के बड़े शहरों को पीछे छोड़ते नजर आ रहे हैं। बंगलूरू के अलावा मुंबई, पुणे और दिल्ली शामिल है। दुनिया के दूसरे शहरों जो चोटी के 10 शहरों में शामिल हैं वे हैं फिलीपिंस का मनिला, कोलंबिया का बोगोटा, रूस का मास्को; पेरू का लीमा, तुर्की का इस्तांबुल और इंडोनेशिया का जकार्ता।

71 फीसदी सड़कों पर समय बीताते हैं बंगलूरू वासी

पीक आवर्स के दौरान बेंगलुरु के गाड़ी चलाने वाले लोग औसतन हर वर्ष 243 घंटे यानी 10 दिन, 3 घंटे ट्रैफ़िक में फँसकर बिताते हैं। इस शहर में सबसे ज़्यादा भीड़भाड़ (103 फीसदी) 20 अगस्त, 2019 को थी, जबकि सबसे कम भीड़भाड़ (30 फीसदी) 6 अप्रैल, 2019 को थी।
पीक आवर्स के दौरान मुंबई में गाड़ी चलाने वाले लोग औसतन हर वर्ष 209 घंटे, यानी 8 दिन, 17 घंटे ट्रैफिक में बिताते हैं। इस शहर में सबसे ज़्यादा भीड़भाड़ (101 फीसदी) 9 सितंबर, 2019 को थी, जबकि सबसे कम भीड़भाड़ (19 फीसदी) 21 मार्च, 2019 को दर्ज की गई थी।

पीक आवर्स के दौरान पुणे में गाड़ी चलाने वाले लोग औसतन हर वर्ष 193 घंटे, यानी 8 दिन, 1 घंटा ट्रैफिक में बिताते हैं। इस शहर में सबसे ज़्यादा भीड़भाड़ (93 फीसदी) 2 अगस्त, 2019 को दर्ज की गई थी, जबकि सबसे कम भीड़भाड़ (30 फीसदी) 27 अक्टूबर, 2019 को दर्ज की गई थी।

नई दिल्ली में 56 फीसदी समय सड़क पर

नई दिल्ली को इस वर्ष भीड़ के 56 फीसदी स्तर (सफर के दौरान यातायात में फँसने का अतिरिक्त समय) के साथ 8वाँ स्थान मिला है। औसतन, व्यस्ततम समय के दौरान गाड़ी चलाने वाले दिल्ली वासी हर साल 190 घंटे, यानी सात दिन, 22 घंटे का अतिरिक्त समय बिताते हैं। शहर में सबसे अधिक भीड़भाड़ (81 फीसदी) 23 अक्टूबर, 2019 को दर्ज किया गया था, जबकि सबसे कम भीड़भाड़ (छह फीसदी) 21 मार्च, 2019 को दर्ज किया गया था। टॉमटॉम ट्रैफिक इंडेक्स 2019 यह दर्शाता है कि दिल्ली में भीड़भाड़ का स्तर 2018 की तुलना में दो फीसदी कम हो गया है।

विश्वभर के सबसे भीड़भाड़ वाले शहरों के स्थान (रोज़ के समग्र भीड़भाड़ का स्तर – यात्रा का अतिरिक्त समय – 800,000 से अधिक आबादी):
1
बंगलूरू, भारत
71%
6
मास्को, रूस
59%
2
मनिला, फिलीपींस
71%
7
लीमा, पेरु
57%
3
बोगोटा, कोलंबिया
68%
8
नई दिल्ली भारत
56%
4
मुंबई, भारत
65%
9
इंसतांबुल, तुर्की
55%
5
पुणे, भारत
59%
10
जकार्ता, इंडोनेशिया
53%
[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button