दुनिया

पीएम मोदी के ऑपरेशन बालाकोट की नकल करने में फंस गए राष्ट्रपति ट्रंप!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के आतंकियों के ठिकाने पर हमला किया था। जब यह हमला हुआ तो उस समय भारत में लोकसभा चुनाव 2019 का बुखार बढ़ रहा था। राजनीतिक गलियारे में माना जाता है कि 2016 में भारतीय थल सेना के कमांडो की गई सर्जिकल स्ट्राइक की तरह इस आपरेशन ने पूरे देश में राष्ट्रवाद की लहर फैला दी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा 303 सीटें लेकर आ गई। यही अमेरिका में भी दिखाई दे रहा है।

वहां भी राष्ट्रपति चुनाव होना है। राष्ट्रपति ट्रंप को दूसरा कार्यकाल चाहिए। ट्रंप अमेरिका में राष्ट्रवादी नेता के तौर पर पसंद किए जा रहे हैं। ईरान के सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी और उनके डिप्टी चीफ समेत अन्य को मानव रहित विमानों की गाइडेड बमबारी में मार गिराने के बाद ट्रंप की टीआरपी और बढ़ रही है।

वह खुद कह रहे हैं उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े आतंकी, अमेरिका का नुकसान करने वाले सुलेमानी को मार गिराया। यानी राष्ट्रवाद की हवा को धार दे रहा हैं। यह बात अलग है कि अमेरिकी कांग्रेस ने राष्ट्रपति ट्रंप के ईरान के खिलाफ युद्ध लेने के अधिकार को सीमित कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button