latest

तिमाही नतीजे: 90 फीसदी घटा सार्वजनिक क्षेत्र की BEML लिमिटेड का एकीकृत शुद्ध लाभ

[चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में सार्वजनिक क्षेत्र की बीईएमएल लिमिटेड का एकीकृत शुद्ध लाभ 90.8 फीसदी घटकर 4.24 करोड़ रुपये रहा। जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ 46.20 करोड़ रुपये था। पहले बीईएमएल लिमिटेड को भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड के तौर पर जाना जाता था।

इतनी रही कंपनी की आय

इस संदर्भ में शेयर बाजार को जानकारी दी गई, जिसमें कंपनी ने बताया कि 2019-20 की अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में उसकी एकीकृत आय 699.15 करोड़ रुपये पर आ गई। जबकि वित्त वर्ष 2018-19 की समान तिमाही में यह आंकड़ा 926.05 करोड़ रुपये था।

बीईएमएल में सरकार की 54 फीसदी हिस्सेदारी

बता दें कि बीईएमएल में सरकार की 54 फीसदी हिस्सेदारी है और 46 फीसदी हिस्सेदारी विभिन्न सार्वजनिक वित्तीय संस्थानों और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के साथ-साथ बैंकों और कर्मचारियों के पास है।

अपनी 28 फीसदी हिस्सेदारी बेच सकती है सरकार

दिसंबर में खबर आई थी कि रणनीतिक विनिवेश के जरिए मोदी सरकार रक्षा मंत्रालय के तहत आने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (बीईएमएल) में अपनी 28 फीसदी हिस्सेदारी की बिक्री कर सकती है और 26 फीसदी हिस्सेदारी को सरकार अपने पास बरकरार रख सकती है।
आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति अक्तूबर 2016 में बीईएमएल लिमिटेड में 26 फीसदी हिस्सेदारी किसी चुनिंदा निवेशक को बेचने की सैद्धांतिक मंजूरी दे चुकी है।

यह है सरकार का लक्ष्य

बता दें कि चालू वित्त वर्ष में सरकार ने विनिवेश के जरिए 1.05 लाख करोड़ रुपये मिलने का लक्ष्य रखा था। हालांकि इस लक्ष्य के पूरे होने की संभावना नहीं है। बजट 2020 के दौरान इस लक्ष्य को संशोधित कर 65 हजार करोड़ रुपये कर दिया गया है। मौजूदा समय में सरकार ने 35 हजार करोड़ रुपये जुटा लिए हैं। वहीं वित्त वर्ष 2020 के लिए 2.1 लाख करोड़ रुपये का विनिवेश लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button