latest

गर्व के पल: सुखोई की कमान, हरियाणा के जाबांज बेटे ने जीत लिया आसमान

भूतपूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम कहते थे, सपना वो नहीं जो आप नींद में देखें। सपना वो है, जो आपको नींद ही न आने दे। कैथल के मनोज गेरा ने ऐसा ही सपना देखा और आखिरकार उसे पूरा भी किया। वायुसेना के ग्रुप कैप्‍टन मनोज गेरा आज ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल से लैस सुखोई-30 एमकेआइ के नए एयरबेस स्कवॉड्रन-222 के कप्तान हैं। यह उपलब्धि हरियाणा खासकर कैथल के लिए गौरवान्वित करने वाली है।

गेरा की सफलता की कहानी युवाओं के लिए प्रेरणा बन गई है। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने सोमवार को तमिलनाडु के तंजावुर में मनोज गेरा को यह जिम्मेदारी सौंपी। बता दें कि मिग-21 से डायरेक्ट सुखोई-30एमकेआइ पर आने वाले ग्रुप कैप्टन मनोज गेरा पहले पायलट हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button