latest

आर्थिक विकास दर घटने के साथ महंगाई बढ़ने को लेकर उद्योग जगत की चिंता बढ़ी, आनंद महिंद्रा ने ब्लॉकबस्टर बजट की उम्मीद जताई

देश की आर्थिक विकास दर के घटने को लेकर उद्योग जगत तो चिंतित था लेकिन जिस तरह से महंगाई ने अपने तेवर दिखाए हैं उससे उनकी चिंता दोगुनी हो गई है। देश के कुछ बड़े उद्योगपतियों ने तो वित्त मंत्री से अब ‘ब्लॉकबस्टर बजट’ पेश करने की गुहार लगानी शुरु कर दी है ताकि अर्थव्यवस्था को तेजी से पटरी पर लाया जा सके। दूसरी तरफ कई एजेंसियों ने अपनी रिपोर्ट में यहां तक कहा है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन को अब राजकोषीय संतुलन से अधिक चिंता विकास दर करनी चाहिए। राजकोषीय घाटा अगर अगले वित्त वर्ष के दौरान 3.5 फीसद के करीब भी रहता है तो यह चिंता की बात नहीं होगी। जबकि अर्थव्यवस्था से जुड़े ताजा आंकड़ों को देखते हुए कुछ एजेंसियां यह कह रही हैं कि सरकार के पास इस बार बहुत कुछ करने के लिए नहीं होगा।

चालू वित्त वर्ष के दौरान विकास दर के 5 फीसद पर सीमित रहने पर महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने कहा है कि, ”इस विकास दर के साथ हम फिर चीन से पिछड़ जाएंगे। हमारी प्रतिस्प‌र्द्धी क्षमता को फिर से बाहर लाने की जरुरत है। वित्त मंत्री जी अपने ब्लॉकबस्टर बजट से फिर से दुनिया को चौंकाने का काम कीजिए। इसमें कुछ नाटकीय कदमों को जोडि़ए।” देश के प्रमुख उद्योग चैंबर सीआइआइ की तरफ से बजट पर सरकार को जो रिपोर्ट सौंपी गई है उसमें महंगाई दर के मध्यावधि लक्ष्य की तरह ही राजकोषीय घाटे का भी मध्यावधि लक्ष्य तय करने और इसे लचीला (ताकि जरुरत के हिसाब से बदलाव हो सके) बनाने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button